दक्षिण अफ्रीका दौरे पर इंग्लैंड के ओपनर डॉम सिबले भी पड़े बीमार

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज डॉम सिबले भी सोमवार को बीमार पड़ गए। दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बीमार पड़ने वाले सिबले 11वें इंग्लिश खिलाड़ी हैं। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक सिबले उसी बीमारी से ग्रसित हैं जिससे ओली पोप, क्रिस वोक्स और जैक लीच ग्रसित हैं। ये तीनों बीमारी के कारण सेंचुरियन टेस्ट नहीं खेल सके थे, जो इंग्लैंड 107 रनों से हार गया। स्टुअर्ट ब्रॉड और जोफ्रा आर्चर भी इसी बीमारी के कारण दोनों अभ्यास मैचों में नहीं खेल सके थे। इसके अलावा जो डेनले और मार्क वुड भी बीमार हैं। सिबले ने पहले टेस्ट मैच में चार और 29 रन बनाए थे।

क्रेग ओवर्टन और डॉम बेस को कवर के तौर पर बुलया गया है। ये दोनों मंगलवार तक टीम से जुड़ जाएंगे। टीम के एक प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि इस महीने दौरे के शुरु होने के बाद से 11 खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ के छह सदस्य किसी न किसी समय बीमार हुए।

बीमारी के कारण पहले टेस्ट से बाहर रहे क्रिस वोक्स और जैक लीच की सेहत में सुधार है और लोग अब उनसे मिल सकते हैं। पूरी टीम मंगलवार को केपटाउन के लिए रवाना होगी। सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच शुक्रवार से खेला जाएगा। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कोच क्रिस सिल्वरवुड ने ऐसे संकेत दिए हैं कि वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच में स्पिनर की जगह बनाने के लिए अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड में से किसी एक को बाहर बैठा सकते हैं। इंग्लैंड को पहले टेस्ट में 107 रनों से मात खानी पड़ी थी।

आईसीसी ने सिल्वरवुड के हवाले से लिखा है, “एंडरसन और ब्रॉड के रूप में हमारे पास बहुत अनुभव है और हम अगर उसे हर मैच में न ले जाएं तो हमारी गलती होगी। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपके युवा सामने आएं तो और अगर हमें स्पिनर के लिए जगह बनानी पड़ी तो हमें देखना होगा कि कौन सा तेज गेंदबाज पिच के मुताबिक ठीक रहेगा। अगर बड़ा फैसला लेने की जरूरत पड़ी तो हम पीछे नहीं हटेंगे।”अगला मैच न्यूलैंड्स में होना है और यहां कि पिच स्पिनरों की मददगार मानी जाती है। कोच ने कहा, “हमें न्यूलैंडस में स्पिनर खेलाने के बारे में सोचना होगा। हम अपना होमवर्क करके ही वहां जाएंगे।”