चुनाव आयोग ने भाजपा से कर लिया है गठबंधन : राबड़ी देवी

पटना | बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने चुनाव आयोग पर गंभीर आरोप लगाया है। राबड़ी ने ट्वीट कर कहा है कि सीबीआई, ईडी की तरह चुनाव आयोग ने भाजपा से गठबंधन कर लिया है और उससे मिलकर बेशर्मी से काम कर रहा है। तेजस्वी यादव के वोट नहीं दे पाने के कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि वोटिंग के दिन तेजस्वी को फर्जी तरीके से फंसाने और बदनाम करने के लिए उसके पहचान पत्र पर उसकी फोटो की जगह किसी और का फोटो लगा दिया गया, ताकि बेवजह विवाद उत्पन्न कर नकारात्मकता व विघ्न पैदा किया जाए।

राबड़ी देवी ने ईवीएम की बरामदगी को लेकर आ रही खबरों पर ट्वीट किया है कि देशभर के स्ट्रोंग रूम के आसपास ईवीएम की बरामदगी हो रही है। ट्रकों और निजी वाहनों में ईवीएम पकड़ी जा रही है। ये कहां से आ रही है,कहां जा रही है? कब,क्यों,कौन और किसलिए इन्हें ले जा रहा है? क्या यह पूर्व निर्धारित प्रक्रिया का हिस्सा है? चुनाव आयोग को अतिशीघ्र स्पष्ट करना चाहिए।

राबड़ी ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के साथ चुनाव आयोग का ऐसा सलूक दुर्भाग्यपूर्ण है। सोचिए आम मतदाता के साथ कैसा होगा? चुनाव आयोग ने तेजस्वी की जगह किसी और का फोटो लगाने के मामले में क्या कार्रवाई की? इसका दोषी कौन है? तेजस्वी के साथ ही ऐसा क्यों किया गया? क्या साजिश रची जा रही थी। उन्होंने कहा कि मेरी बेटी सिंगापुर से वोट देने के लिए पटना आई थी लेकिन उसका नाम मतदान सूची से गायब था। चुनाव आयोग के आधिकारी बताएं इसका जिम्मेदार कौन है? तेजस्वी यादव 19 मई को हुए मतदान में वोट नहीं डाल पाए थे। जिसको लेकर उनके विरोधियों ने जमकर तेजस्वी पर जमकर निशाना साधा था।