अलीगढ के शाहजमाल धरने में पुलिस और महिलाओं के बीच झड़प, जुमे की नमाज पर उमड़ सकता है सैलाब, अलर्ट

अलीगढ | शाहजमाल ईदगाह के सामने सीएए और एनआरसी के विरोध में 15 दिन से जारी धरना प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने बुधवार रात को फिर से धरना स्थल पर मोमबत्तियां जलाकर कुरान की आयतें पढ़ीं। इसके बाद रात 10 बजे करीब नारेबाजी भी जमकर की गई। इस दौरान करीब 800 महिलाएं और पुरुषों मौके पर जमा हो गए। इससे पूर्व मंगलवार रात पुलिस और महिलाओं के बीच हल्की तड़का भड़की हो गई। महिलाओं ने पुलिस पर जबरन धरने से उठाकर घर भेजने का आरोप लगाते हुए इलाके में अफवाह फैला दी। इसके चलते देर रात करीब 2:30 बजे सैकड़ों लोग धरना स्थल पर पहुंच गए। उन्होंने महिलाओं के समर्थन में नारेबाजी शुरू कर दी। पुलिस ने समझा बुझाकर लोगों को शांत किया।

शाहजमाल ईदगाह के सामने जारी धरना प्रदर्शन में बुधवार की रात करीब नौ बजे धरना स्थल पर अचानक से भीड़ बढ़ गई। महिलाओं और पुरुषों ने वहां फिर से मोमबत्तियां जलाकर कुरान की आयतें पढ़ीं। देर रात करीब 11 बजे तक यह प्रकरण चलता रहा। इस बीच जमकर नारेबाजी भी की गई। किसी भी प्रकार की आशंका को देखते हुए पुलिस अमला अलर्ट हो गया।

देर रात करीब एक बजे वहां से भीड़ कम हुई। इधर, मंगलवार की रात करीब 2:30 बजे धरना स्थल पर 50 से 80 के करीब महिलाएं मौजूद थीं। कुछ पुलिसकर्मियों ने महिलाओं से अनुरोध किया कि वह रात के समय अपने घर जाकर सो जाएं। इसी बात पर महिलाओं ने इलाके के लोगों को फोन कर अफवाह फैला दी कि पुलिस उनको धरने से उठाने की तैयारी कर रही है। इस पर वहां करीब 200 से 300 लोग आ गए। उन्होंने नारेबाजी की। इस पर पुलिस ने बमुश्किल उनको समझाकर शांत किया। थाना देहली गेट इंस्पेक्टर के मुताबिक पुलिस ने किसी को भी धरना प्रदर्शन करने के दौरान जबरन नहीं उठाया। किसी भी अफवाह फैलाने वालों पर पैनी निगाह है।

जुमे को लेकर अलर्ट हुआ प्रशासन-
शाहजमाल धरना प्रदर्शन को देखते हुए कल होने वाली जुमे की नमाज को लेकर प्रशासन फिर से सतर्क हो गया है। किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतते हुए एलआईयू को इलाके में सतर्क करते हुए भीड़ का अनुमान लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही जुमे के दिन दो अतिरिक्त मजिस्ट्रेटों की तैनाती के भी निर्देश दिए हैं।

थाना पुलिस धरना स्थल में शामिल लोगों और भीड़ को जुटाने वालों के नाम, पते और बलदियत की जानकारी जुटाने में लगी है। हालांकि प्रशासन का अनुमान है कि जुमे की नमाज के बाद धरना प्रदर्शन को खत्म करने का एलान हो सकता है। एडीएम सिटी राकेश मालपाणी के अनुसार जुमे की नमाज को लेकर प्रशासन की ओर सुरक्षा व्यवस्था के पूर्ण इंतजाम कर लिए गए हैं। पर्याप्त मात्रा में पुलिस व अन्य सुरक्षा बलों को भी तैनात किया गया है।