चीन : 2.67 करोड़ डॉलर की रिश्वत के मामले में पोलित ब्यूरो के पूर्व सदस्य को उम्रकैद

बीजिंग। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी में कभी पोलित ब्यूरो के सदस्य रहे सुन झेंगकाई को 2.67 करोड़ डॉलर रिश्वत लेने के मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। गौरतलब है कि सुन पर राष्ट्रपति शी चिनफिंग के खिलाफ पिछले वर्ष तख्ता पलट का षड्यंत्र रचने का आरोप है। चीन की सरकारी मीडिया में आज आयी खबरों के अनुसार, सुन पोलित ब्यूरो के पूर्व सदस्य और दक्षिण-पश्चिमी मेगा सिटी चोंगक्विन के पार्टी प्रमुख रहे हैं। एक वक्त में पार्टी नेतृत्व में शीर्ष पद के दावेदार माने जा रहे सुन को पिछले वर्ष अक्तूबर में पार्टी कांग्रेस से पहले अचानक पद से हटा दिया गया।

संवाद समिति शिन्हुआ की खबर के अनुसार, ‘फर्स्ट इंटरमीडिएट पीपुल्स कोर्ट ऑफ तिआनजिन म्युनिसिपैलिटी ने आज सुन को 17 करोड़ युआन (2.67 करोड़ डॉलर) की रिश्वत लेने के जुर्म में उम्रकैद की सजा सुनायी है। सजा सुनाते हुए अदालत ने जीवन भर के लिए सुन के सभी राजनीतिक अधिकार छीन लिये हैं और उनकी पूरी निजी संपत्ति जब्त कर ली है। गौरतलब है कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग अपने पहले कार्यकाल से ही भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं। 54 वर्षीय सुन इस अभियान के तहत सजा पाने वाले पार्टी के वरिष्ठतम नेताओं में से एक हैं।
-एजेंसी