‘नवसंवत की नयी उमंगें लाये खुशियो मेला’, पढ़िए प्रेरणा मेहरोत्रा की यह कविता

भारतीय नव वर्ष पर शुभकामनायें देने के लिए सोशल मीडिया पर धमाल मचा हुआ है | इसी को लेकर लखनऊ की युवा लेखिका प्रेरणा मेहरोत्रा गुप्ता ने भी कुछ पंक्तियाँ लिखी हैं जो काफी पसंद की जा रही हैं | पढ़िए उनकी यह कविता- नव वर्ष की नई उमंगे नव वर्ष की पावन बेला लाये खुशियों का मेला इस वर्ष भी जगमगाएंगे, खुशियों के दीप. मिले हर महनति को उसके काम में जीत. बरसे फूलो की वर्षा हर तीज…

Read More

Posted in साहित्य Tagged Comments Off on ‘नवसंवत की नयी उमंगें लाये खुशियो मेला’, पढ़िए प्रेरणा मेहरोत्रा की यह कविता
पढ़िए दिल को छूती यह कविता – ‘चल समाधान कर लें दिल का, वरना प्यासे मर जायेंगे’

जीतपाल सिंह यादव – बिकता नहीं कोई ख्वाब मीठा, मीठी बातें बिक जाती हैं। मैं जितना तुझसे दूर रहूं, उतनी यादें बढ़ जातीं हैं। सीमित भावों के मिलन एक दिन, प्रेम के गीत सुनायेंगे।। चल समाधान कर लें दिल का, वरना प्यासे मर जायेंगे।। जितना रोचक रोशन चेहरा गुस्से में गुलाबी लगता है। उतना जालिम ब्यूटी पार्लर में भी जाकर नहीं सजता है। जब हंसते हो यह लगता है, आकाश सुमन बरसायेंगे। चल समाधान कर लें दिल का वरना…

Read More

महात्मा गांधी की हत्या की खबर ब्रेक करने वाले रिपोर्टर ने रोते हुए लिखी थी रपट

शैलेन चटर्जी बापू की हत्या के दौरान घटना स्थल पर ही मौजूद थे सुरेन्द्र किशोर – महात्मा गांधी को गोली लगने की खबर जब यू.पी.आई. संवाददाता ने दिल्ली के बिड़ला भवन से अपने दफ्तर को दी तो उधर से उल्टे सवाल आया, ‘तुम्हारा दिमाग तो ठीक है ?’ सवाल करने वाले वरिष्ठ पत्रकार पी.डी.शर्मा ने कहा, ‘ऐसा नहीं हो सकता. बापू को भला कौन मार सकता है ?’ पर वह दुर्भाग्यपूर्ण घटना तो हो चुकी थी और, उस घटना…

Read More

नाकाम होगी बापू को अप्रासंगिक करने की साजिश : सुरेंद्र राजन

छतरपुर| कई फिल्मों में महात्मा गांधी का किरदार निभा चुके सुरेंद्र राजन का कहना है कि वर्तमान दौर में महात्मा गांधी को अप्रासंगिक बनने की साजिश रची जा रही है, मगर यह कामयाब नहीं होने वाली, क्योंकि यह कोशिश ठीक वैसे ही है, जैसे पत्थर पर सिर मारना । बुंदेलखंड के छतरपुर स्थित गांधी आश्रम में महात्मा गांधी की शहादत दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए राजन ने आईएएनएस से कई अहम मुद्दों पर चर्चा की। बुंदेलखंड…

Read More

अलीगढ़ : हिन्दू इंटर कालेज में’आगमन’ ने कराया कवि सम्मेलन

अलीगढ़ | “आगमन” संस्था द्वारा अलीगढ़ शहर के हिन्दू इंटर कॉलेज में प्रथम काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें 19 कवियों ने काव्य पाठ किया | मुख्य अतिथि संस्था के राष्ट्रीय अद्यक्ष पवन जैन रहे । मुख्य कवी अतिथि डा. अशोक अंजुम ने भी कार्यक्रम में शिरकत की और अपने कविताओं से लोगो को प्रभावित किया | कार्यक्रम में विशेष भूमिका डॉ दिनेश कुमार शर्मा प्रधानाचार्य हिन्दू इंटर कालेज और वर्षों वाष्र्णेय की रही । मंच संचालन वरिष्ठ…

Read More

Posted in साहित्य Tagged Comments Off on अलीगढ़ : हिन्दू इंटर कालेज में’आगमन’ ने कराया कवि सम्मेलन
‘सही मायने में इस्लामी रंग हरा नही भगवा है’ पढ़िए पत्रकार नवेद का यह चर्चित पोस्ट

लखनऊ । यूपी हज समिति के कार्यालय को भगवा रंग में रंगने के बाद सोशल मीडिया पर सियासत शुरू हो गयी है । कोई इसे भाजपा सरकार की हठधर्मिता बता रहा है तो कोई भगवा कलर को ही इस्लाम का वास्तविक कलर बता रहा है । लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार नवेद शिकोह ने अपने फेसबुक पर भगवा कलर को इस्लामी कलर बताते हुए पोस्ट डाला है जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है । आप भी पढ़िए यह…

Read More

उर्दू के प्रख्यात शायर अनवर जलालपुरी का जाना एक युग का अंत !

संजय तिवारी- पार्थिव देह से वह चले ही गए। सोगवार न होने की कसम दिला कर। ख़याल की रेखा में बाँध कर। लौट कर आने का वादा कर गए। सच है, हिंदी-उर्दू मंचों की वाचिक परंपरा के एक युग का अंत हो गया। अनवर जलालपुरी नहीं रहे। राम की अयोध्या से प्रवाहित सरयू की गोद में पावन तमसा के उसी तट पर 6 जुलाई 1947 को जन्म लिया था, जिस तमसा के तट पर आदिकवि वाल्मीकि ने रामायण रची…

Read More

आखिरकार योगी सरकार को कहना ही पढ़ा, ‘ताज महल हमारी शान है’

लखनऊ। एक ही दिन में योगी सरकार को अपने किये का एहसास हो गया | पर्यटन बुक लेट से ताजमहल को निकालने के बाद चौतरफ़ा किरकिरी के बीच अब योगी सरकार ने ताजमहल को भारत की शान बताया है | आज पत्रकार वार्ता कर योगी सरकार की मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि 156 करोड़ से ताजमहल का होगा विकास | उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से विश्व पर्यटन दिवस पर जारी की गई बुकलेट ‘उत्तर प्रदेश…

Read More

फिज़ाओ में आज भी गूंजते है ‘हेमंत दा’ के गीत

फिल्म जगत को अपनी मधुर संगीत लहरियों से सजाने और संवारने वाले महान संगीतकार और पार्श्व गायक हेमंत कुमार मुखोपाध्याय उर्फ हेमंत दा के गीत आज भी फिजा में गूंजते हुए महसूस होते हैं। आज उनके जन्मदिवस के अवसर पर एक नजर डालते है उनके जीवन पर। बनारस में 16 जून 1920 को जन्में हेमंत कुमार ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा कलकत्ता के मित्रा इंस्टीट्यूट से पूरी की। इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद हेमंत कुमार ने जादवपुर विश्वविद्यालय में…

Read More

आज ही के दिन 30 अप्रैल को तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने की थी आत्महत्या

जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने आज ही के दिन यानि 30 अप्रैल को ही खुदकुशी की थी। प्रथम विश्वयुद्ध के विजेता राष्ट्रों की संकुचित नीति के कारण ही स्वाभिमनी जर्मन राष्ट्र को हिटलर के नेतृत्व में आक्रामक नीति अपनानी पड़ी और तभी विश्‍व ने हिटलर को तानाशाह घोषित कर दिया। ऐतिहासिक घटनाक्रम में जाऐं तो हिटलर के अभ्युदय का महत्वपूर्ण कारण स्वय उनका प्रभावशाली एवं आकर्षक व्यक्तित्व था वे उच्च कोटी के वक्ता थे। वे भाषण की कला…

Read More

Posted in साहित्य Comments Off on आज ही के दिन 30 अप्रैल को तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने की थी आत्महत्या