‘#अनिश्चित ही #निश्चित है…’ #कैंसर से जंग लड़ रहे #इरफान ने बयान किया यह #दर्द-

नई दिल्ली। कैंसर जैसी बीमारी से जूझ रहे इरफान का मानना है कि ‘अनिश्चित ही निश्चित है’। बीमारी की पहचान के बाद सदमे से लेकर इस चीज का एहसास कि जिंदगी जैसी भी चल रही है उसपर अपना कंट्रोल नहीं। फिलहाल लंदन में अपनी रेयर किस्म की बीमारी का इलाज करा रहे इरफान ने एक भावुक और दार्शनिक नोट में अस्पताल से अपने सपनों के मक्का यानी लॉर्ड्स स्टेडियम तक का हाल बताया। इरफान खान ने तीन महीनों बाद ट्वीट कर पहली बार कैंसर से अपनी जंग के बारे में बताया है।

इरफान ने बताया, “मैं जिस अस्पताल में भर्ती हूं, उसमें बालकनी भी है। बाहर का नजारा दिखता है। कोमा वार्ड ठीक मेरे पास ही है। सड़क की एक तरफ मेरा अस्पताल है और दूसरी तरफ लॉर्ड्स स्टेडियम है। यहां मेरे विवियन रिचर्ड्स का मुस्कुराता पोस्टर है। मेरे बचपन के ख्वाबों का मक्का। उसे देखने पर पहली नजर में मुझे कोई एहसास ही नहीं हुआ। मानो वह दुनिया कभी मेरी थी ही नहीं।” इरफान ने लिखा, “एक तरफ मेरा अस्पताल था, दूसरी तरफ स्टेडियम। इस बीच एक सड़क थी जो मुझे जिंदगी और मौत के बीच का रास्ता जैसा लग रही थी। लेकिन ये सारी चीजें मुझे बस ये एहसास करा रहीं थी कि जिंदगी में अनिश्च‍ितता ही निश्च‍ित है। मुझे पहली बार असल मायने में एहसास हुआ कि आजादी का मतलब क्या है।”

इरफान ने लिखा, “मेरी बीमारी का पता चलने के बाद बहुत से लोग मेरे लिए दुआ कर रहे हैं। कई लोग जो मुझे जानते भी नहीं। सबकी दुआएं एक फोर्स बनकर मेरे स्पाइनल कॉर्ड के जरिए अंदर आते हुए सिर तक जा रही हैं। मैं जिंदगी को बहुत करीब से महसूस कर रहा हूं।” बता दें इरफान ने ट्वीट कर लिखा था, जिंदगी में अचानक कुछ ऐसा हो जाता है जो आपको आगे लेकर जाती है। मेरी जिंदगी के पिछले कुछ दिन ऐसे ही रहे हैं। मुझे न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी हुई है, लेकिन मेरे आसपास मौजूद लोगों के प्यार और ताकत ने मुझमें उम्मीद जगाई है।
इरफान जल्द फिल्मों में वापसी करेंगे, हाल ही में उनकी अपकमिंग फिल्म “कारवां” का पोस्टर रिलीज किया गया है।