बुलंदशहर हिंसा : शहीद इंस्पेक्टर सुबोध के चाचा बोले, ‘नही चाहिए 40 लाख, CM योगी खुद मिलने आएं, हत्यारों से मिली हुई है पुलिस’

बुलंदशहर । कथित गौ-रक्षकों की भीड़ द्वारा मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह का शव एटा जिले में उनके पैतृक गांव पहुंचने वाला है । सुबह बुलंदशहर पुलिस लाइन में शोक और आँसुओ के माहौल में उन्हें आला अफसरों ने श्रद्धांजलि अर्पित की । वहीं बुलंदशहर हिंसा में मारे गए सुबोध कुमार सिंह के चाचा ने आरोप लगाया कि वह गाड़ी में अकेले थे और उनका ड्राइवर सब बात जानता है। उन्होंने कहा, पुलिस मिली हुई है। उन्होंने कहा कि हमें 40 लाख रुपये की मदद नहीं लेंगे हम चाहते हैं कि सीएम योगी आदित्यनाथ खुद हमसे मिलने आएं। चाचा ने बताया कि गांव में कल किसी के घर में चूल्हा नहीं जला है।

कुछ देर में बुलंदशहर से शहीद सुधीर कुमार राठौर का शव एटा उनके पैतृक गांव पहुंचने वाला है। गांव में सलामी से लेकर अंतिम संस्कार तक की तैयारी कर ली गई। आसपास गांव की भीड़ जुटना शुरू हो गई है सुधीर के अंतिम दर्शन के लिए सांसद विधायक डीएम एसएसपी सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उनके गांव में पहुंच गए।