बुलंदशहर हिंसा : पुलिस को इंस्पेक्टर सुबोध के हत्यारे बजरंग दल नेता योगेश समेत 23 की तलाश, कथित हिन्दूवादियों में हड़कंप, IPS प्रभाकर चौधरी ने बढ़ाया पुलिस का मनोबल

बुलंदशहर। स्याना में कथित गौकशी के बाद हुई हिंसा और उसमें इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या के बाद अब पुलिस ने आरोपियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है । तेजतर्रार आईपीएस प्रभाकर चौधरी के जिले में कप्तानी संभालने के बाद पुलिस के मनोबल बड़ा है वहीं बलवाइयों की बेचैनी बढ़ गयी है। एसएसपी के एक्शन में आने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी बजरंग दल संयोजक योगेशराज समेत 22 आरोपियों के घर कुर्की नोटिस चस्पा कर दिए हैं । वही पुलिस ने सभी हत्यारोपियों का एक पोस्टर भी जारी किया है जिसमे फ़ोटो के साथ सभी की तलाश है । पुलिस ने सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखने का वायदा भी किया है । पुलिस के पोस्टर के बाद हिंदूवादी संगठनों के आरोपी कार्यकर्ताओं में हड़कंप मच गया है ।

बताते चलें कि शुक्रवार दोपहर एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव के नेतृत्व में काफी पुलिस बल ¨चगरावठी गांव पहुंचा। पुलिस ने ढोल बजाकर मुनादी कराई। इसके बाद आरोपितों के घर कुर्की कार्रवाई के नोटिस चस्पा किए। ¨चगरावठी के बाद पुलिस फोर्स महाव और फिर नयाबांस पहुंची। यहां मुख्य आरोपित योगेश राज के घर के बाहर नोटिस चस्पा किया। इसके बाद टीम स्याना पहुंची और फिर चांदपुर गांव में नोटिस चस्पा की कार्रवाई की गई।

एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि मुख्य आरोपित योगेश राज के साथ-साथ शिखर अग्रवाल, उपेंद्र राघव, सतीश, विक्रांत, राजकुमार प्रधान समेत 22 आरोपितों के घर पर मुनादी के बाद नोटिस चस्पा किए गए हैं। अब भी आरोपित फरार रहते हैं तो धारा 83 की कार्रवाई की जाएगी। कुर्की के बाद भी आरोपित हाजिर नहीं हुए तो सभी पर इनाम घोषित होगा। पुलिस के जाने के बाद ग्रामीण घरों से निकले और आरोपितों के दरवाजे पर लगे नोटिस पढ़े । इस दौरान सीओ राघवेंद्र मिश्रा, कोतवाली प्रभारी किरनपाल ¨सह, थाना प्रभारी बीबीनगर, खानपुर, औरंगाबाद, नरसेना के साथ भारी पुलिस बल व आरएएफ के जवान मौजूद रहे।