RLD का अलीगढ हादसे पर बड़ा बयान, पूर्व विधायक ने कहा- ‘दलितों की मौत पर BJP-RSS मौन, मृतकों के परिजनों को मिले 15-15 लाख मुआवजा’

अलीगढ | शहर के देहलीगेट क्षेत्र स्थित मौहल्ला खटीकान में खिलौना पिस्तौल कारखाने में हुए हादसे पर राष्ट्रीय लोकदल ने दुःख व्यक्त किया है | राष्ट्रीय लोकदल के एससी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व विधायक खैर भगवती प्रसाद सूर्यवंशी रालोद नेताओं के साथ सोमवार को मौहल्ला खटीकान में पीड़ित परिवारों के बीच पहुंचे और हादसे पर दुःख व्यक्त किया | रालोद नेताओं ने मृतकों के परिजनों से शोक संवेदनाएं व्यक्त की और मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित की |

पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद पूर्व विधायक भगवती प्रसाद सूर्यवंशी ने कहा कि भाजपा कोई योगी सरकार और आरएसएस इतने बड़े हादसे पर मौन हैं क्योंकि मृतक दलित है | उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को मृतकों के परजिनों को 15 -15 लाख रुपए मुआवजा और घायलों को 5 -5 लाख रूपये मुआवजा तत्काल दे | उन्होंने कहा कि भाजपा दलितों को सिर्फ वोट बैंक के रूप में देखती है, उनके दुःख-दर्द में साथ कड़ी नहीं होती | उन्होंने कहा कि यदि योगी सरकार ने मुआवजा नहीं दिया तो रालोद आंदोलन करेगा |रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी ने कहा कि हादसे ने कई परिवार उजाड़ दिए हैं और काफी आर्थिक नुकसान हुआ है | उन्होंने कहा कि प्रशासन और सरकार को मानवता दिखाते हुए आगे आना चाहिए | उन्होंने कहा कि योगी सरकार में जाति देखकर मुआवजा दिया जाता है, दलितों के साथ अन्याय हो रहा है |

रालोद नेता जियाउर्रहमान एडवोकेट ने कहा कि भाजपा के सांसदों और विधायकों को मौहल्ला खटीकान में हुए हादसे में मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग उठानी चाहिए | उन्होंने कहा भाजपा सरकार में अल्पसंख्यकों, दलितों और पिछडो के साथ भेदभाव हो रहा है | उन्होंने कहा कि प्रशासन को भी स्वंय के स्तर से पीड़ितों की मदद करनी चाहिए |

शोक संवेदना व्यक्त करने वालों में पूर्व विधायक भगवती प्रसाद सूर्यवंशी, पूर्व जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, रालोद नेता जियाउर्रहमान एडवोकेट, निवर्तमान महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान, दानिश, राजा भैया, सौरभ राणा आदि मौजूद रहे |