मुंबई में IPS को जबरन क्वारनटीन करने पर नितीश कुमार बोले- ‘जो हुआ, सही नहीं हुआ’

पटना | सुशांत सिंह राजपूत केस के मामले में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं। इस केस को लेकर महाराष्ट्र और बिहार पुलिस के बीच भी टकराव भी देखने को मिल रहा है। ताजा वाक्या मामले की जांच करने गए पटना के सिटी एसपी से जुड़ा है। दरअसल, मामले की जांच करने मुंबई गए पटना के एसपी सिटी विनय तिवारी को बीएमसी के अधिकारियों ने 14 दिनों के लिए क्वारनटीन कर दिया है। जिसके बाद मामले पर मुख्यमंत्री समेत सुशांत के फैन्स और परिजन भी हैरान हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में जांच कर रहे पटना नगर (पूर्वी) एसपी विनय तिवारी को मुंबई में क्वारंटाइन करने के मामले पर कहा कि उनके (विनय तिवारी) साथ जो हुआ वो गलत है। ये राजनीतिक नहीं है, बिहार पुलिस अपनी ड्यूटी कर रही है। हमारे डीजीपी उनसे बातचीत करेंगे।

बिहार के डीजीपी ने इस मामले ट्वीट करते हुए कहा कि 2 अगस्त को आईपीएस विनय तिवारी ऑफिशियल ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे. लेकिन रविवार रात 11 बजे बीएमसी अधिकारियों ने जबरन उन्हें क्वारनटीन कर दिया। उन्हें अनुरोध के बावजूद आईपीएस मेस में आवास उपलब्ध नहीं कराया गया। वो गोरेगांव के एक गेस्ट हाउस में ठहरे हुए थे।

सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति इस खबर से काफी गुस्से में नजर आईं। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए कहा- क्या? क्या ये वाकई सच है? आखिर कैसे एक अफसर जिसे ड्यूटी के लिए भेजा गया है उसे 14 दिनों के लिए क्वारनटीन किया जा सकता है?