हांगलू ने निःस्वार्थ भाव से इलाहाबाद विश्विद्यालय की सेवा की है : गिरधर मालवीय

शशांक मिश्रा/इलाहाबाद । प्रबुद्ध नागरिक मंच के तत्वावधान में आज प्रयाग संगीत समिति प्रेक्षागृह में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हंगलू का सम्मान समारोह आयोजित किया । पूरी तरह खचाखच भरे सभागार के इस सम्मान समारोह की अध्यक्षता करते हुए काशी हिंदू विश्वविद्यालय के चांसलर गिरिधर मालवीय ने कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रतनलाल हांगलू ने बिना किसी स्वार्थ के इलाहाबाद विश्वविद्यालय की सेवा की है। वे पिछले तीन साल से सेवा भाव से कार्य कर रहें हैं। पूर्व न्यायमूर्ति और BHU के वर्तमान चांसलर गिरधर मालवीय ने कहा कि पिछले 3 सालों में विश्वविद्यालय में कई बदलाव हुए हैं। कॉलेजों में पीजी पाठ्यक्रम शुरू किए । विश्वविद्यालय में 4500 सोलर प्लेट लगाए गए, वाश आउट करके नये सिरे से हॉस्टल आवंटित किया गया और अब कॉलेजों में पीएचडी पाठ्यक्रम की तैयारी की जा रही है।कुलपति हांगलूं ने विश्वविद्यालय में कई ऐसे बदलाव किए हैं जिनका प्रभाव अगले कई दशकों तक रहेगा कुलपति हांगलूं के काम को देखते हुए उन्हें एक टर्म और कुलपति बनाया जाना चाहिए।

इस सम्मान समारोह के आरंभ में कुलपति प्रो. रतनलाल हंगलू को प्रबुद्ध नागरिक समाज की तरफ से 51 किलो का पुष्प हार पहना कर सम्मानित किया गया। तत्पश्चात शहर की कई संस्थाओं ने कुलपति को पुष्पगुच्छ देकर उनका सम्मान किया।उत्पल राय ने सारे आगंतुकों का स्वागत किया। तत्पश्चात सीएमपी कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉ. आनंद श्रीवास्तव ने मानपत्र पढ़ कर कुलपति का सम्मान किया। स्वागत वक्तव्य देते हुए इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पीआरओ डॉ. चितरंजन कुमार ने कहा कि अभी आने वाले दिनों में विश्वविद्यालय में कई संरचनात्मक बदलाव होंगे। हम पाठ्यक्रम से लेकर और विश्वविद्यालय की आधारभूत संरचना तक में सकारात्मक बदलाव करेंगे।

ईश्वर शरण पीजी कॉलेज के प्राचार्य डॉ आनंद शंकर सिंह ने कहा कि वह पिछले 30 सालों से छात्र और शिक्षक के नाते इलाहाबाद विश्वविद्यालय से जुड़े हैं। कुलपति प्रो. हांगलूं ने विश्वविद्यालय में जो बदलाव किए हैं वे बदलाव पिछले 20-25 सालों से लंबित थे। प्रयागराज बार काउंसिल के चेयरमैन आर.के चतुर्वेदी ने कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय राजनीतिक घटनाक्रमों के कारण कई बार पटरी से उतर जाता है पर कुलपति ने सख्ती से कई समस्याओं पर काबू पाया है। मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.यस. चौहान ने कुलपति का अभिनंदन करते हुए कहा कि कुलपति ने विश्वविद्यालय के कॉलेज में नियुक्तियां करके पठन पाठन का माहौल निर्मित किया।

लायंस क्लब के अंतररास्ट्रीय निदेशक जगदीश गुलाटी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि प्रो. रतनलाल हांगलू के नेतृत्व में इलाहाबाद विश्वविद्यालय नई उच्चाई को छू लेगा। कायस्थ पाठशाला के वर्तमान अध्यक्ष चौधरी राघवेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि कुलपति ने कई कॉलेज में नए पाठ्यक्रम शुरू किए हैं जिससे छात्रों के सामने रोजगार के नए विकल्प खुले हैं।

इस अवसर पर बोलते हुए कुलपति प्रो. रतन लाल हांगलूं ने कहा कि वे इलाहाबाद विश्वविद्यालय में सकारात्मक माहौल के लिए प्रतिबद्ध हैं।मुट्ठी भर नकारात्मक लोग विश्वविद्यालय को जकड़ कर नहीं रख सकते।इलाहाबाद विश्वविद्यालय HRD और UGC के नियमों से चलेगा किसी और के कहने से नहीं।कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालय में जल्द ही रिसर्च और अनुसंधान के लिए कई नए कार्य किए जायेंगे।

कुलपति रतनलाल हांगलू के इस सम्मान समारोह का संयोजन पूर्व राज्य मंत्री उत्पल राय ने किया था। इस सम्मान समारोह में व्यापार मंडल, प्रयागराज के अध्यक्ष विजय अरोरा, मेडिकल एसोसिएशन प्रयागराज के चेयरमैन आर.के.एस. चौहान, लायंस क्लब के अंतरराष्ट्रीय निदेशक जगदीश गुलाटी, बार काउंसिल के चेयरमैन आई के चतुर्वेदी के साथ साथ शहर उत्तरी से BJP के विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी भी मंच पर मौजूद रहे!