गायत्री के खिलाफ लड़ रही महिला का भाई बनकर अलीगढ का अंशू कर रहा गुमराह, एसएसपी से कार्यवाही की मांग

अलीगढ | खनन घोटाले के आरोपी और सपा सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ लड़ रही पीडिता को अलीगढ का अंशु गौड़ नाम का युवक परेशान कर रहा है | अंशु खुद को पीडिता का भाई बताकर लोगों को गुमराह कर रहा है | यह कहना है खुद पीडिता का | अलीगढ में पीडिता का एसएसपी को भेजा गया पत्र वायरल हो रहा है |

गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ दर्ज कराए गए दुष्कर्म मामले में पीड़िता ने अपने को पैरोकार बताने वाले अंशु गौड़ पर आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि अलीगढ़ निवासी अंशु गौड़ पुलिस व प्रशासन को गुमराह कर रहा है। मामले में उसने एसएसपी को पत्र भेजकर शिकायत भी की है।चित्रकूट निवासी पीड़ित महिला ने एसएसपी को भेजे पत्र में कहा कि अंशु गौड़ उसका भाई नहीं है। चार साल पहले उससे मुलाकात हुई थी। आरोप है कि अंशु गौड़ ने उसे मोहरा बनाकर मुकदमा दर्ज कराया था, जो विचाराधीन है। इस मामले में अधिवक्ता के माध्यम से वह खुद पैरवी कर रही है, अंशु गौड़ द्वारा कोई पैरवी नहीं की जा रही। आरोप पत्र में भी वह गवाह नहीं है। शासन-प्रशासन में वह खुद को भाई बताकर जहां अधिकारियों को गुमराह कर रहा है, वहीं उन्हें मानसिक रूप से परेशान कर रहा है।

| गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ दर्ज कराए गए दुष्कर्म मामले में पीड़िता ने अपने को पैरोकार बताने वाले अंशु गौड़ पर आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि अलीगढ़ निवासी अंशु गौड़ पुलिस व प्रशासन को गुमराह कर रहा है। मामले में उसने एसएसपी को पत्र भेजकर शिकायत भी की है।चित्रकूट निवासी पीड़ित महिला ने एसएसपी को भेजे पत्र में कहा कि अंशु गौड़ उसका भाई नहीं है। चार साल पहले उससे मुलाकात हुई थी। आरोप है कि अंशु गौड़ ने उसे मोहरा बनाकर मुकदमा दर्ज कराया था, जो विचाराधीन है। इस मामले में अधिवक्ता के माध्यम से वह खुद पैरवी कर रही है, अंशु गौड़ द्वारा कोई पैरवी नहीं की जा रही। आरोप पत्र में भी वह गवाह नहीं है। शासन-प्रशासन में वह खुद को भाई बताकर जहां अधिकारियों को गुमराह कर रहा है, वहीं उन्हें मानसिक रूप से परेशान कर रहा है।

पीड़ित महिला ने अंशु गौड़ के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। रजिस्ट्री द्वारा शिकायत पत्र भेजने के साथ ही पीड़िता ने एसएसपी से फोन पर बातचीत कर मामले से अवगत कराया है। एसएसपी आकाश कुलहरि ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।