#AMU छात्रसंघ ने तीस्ता सीतलवाड़ को दी आजीवन सदस्यता, मुस्लिम, दलित व आदिवासी के मुद्दों पर लड़ने का आव्हान

अलीगढ | अमुवि छात्र संघ ने सामजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ को आजीवन छात्र संघ की सदस्यता दी है | सोमवार को अलीगढ में छात्र संघ भवन में अमुवि छात्र संघ ने उन्हें आजीवन सदस्यता दी | इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ ने कहा कि मोदी सरकार कानूनों को पलटने में लगी है। पैसे के बल पर चुनाव जीतकर भाजपा ने लोकतंत्र का अपमान किया है। उन्होंने भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर रावण की जेल से रिहाई की मांग भी की। उन्होंने कहा कि अब मुस्लिम, दलित व आदिवासी के मुद्दे को लेकर लड़ाई लड़नी होगी। इस समाज के एक हजार से ज्यादा लोग जेलों में आतंकी संगठनों से कनेक्शन के आरोपों में बंद हैं। तीस्ता ने यूपीए सरकार की मनरेगा, आरटीआई सहित कई योजनाओं की तारीफ की, लेकिन उन योजनाओं की सूरत मोदी सरकार बदलने में लगी है। कासगंज मंे मुस्लिमों की प्रापर्टी पर हमले हुए हैं। मुजफ्फरनगर के दंगे को भला कौन भूल सकता है? भीम आर्मी शिक्षण क्षेत्र में कार्य कर रही है, लेकिन आंदोलन के चलते इसके अध्यक्ष चंद्रशेखर रावण पर रासुका लगाकर जेल भेज दिया गया। इसलिए उनकी रिहाई के लिए मांग उठनी चाहिए। बाद में तीस्ता को छात्र संघ की आजीवन सदस्यता प्रदान की गई।

अतिथियों को स्वागत छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी, उपाध्यक्ष सज्जाद सुभान राथर, सचिव मोहम्मद फहद, कार्र्यक्रम कन्वीनर समरीन फरहा ने किया। कांग्रेस नेत्री रूही जुबैरी ने विचार व्यक्त किए। इस मौके पर कांग्रेस नेत्री व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत, दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) की पूर्व अध्यक्ष नीतू वर्मा मौजूद रहीं।