AMU छात्रसंघ नेताओं सहित दर्जनभर पर देशद्रोह का मुकद्दमा दर्ज, BJP और छात्रों में बड़ा टकराव, कैंपस छावनी में तब्दील

अलीगढ | जिन्ना प्रकरण के बाद अब अमुवि में भाजपा नेताओं की पिटाई के बाद अमुवि और भाजपा आमने-सामने हैं | मुस्लिम फ्रंट की बैठक में ओवैसी के आगमन को लेकर छिड़ा बवाल अब सत्ताधारी भाजपा और अमुवि छात्रों के बीच हनक का मुद्दा बन गया है | अमुवि छात्र संघ के नेताओं पर भाजयुमो जिलाध्यक्ष की तहरीर पर देशद्रोह का मुकद्दमा दर्ज करने से मामला और बड गया है | रातभर हजारों छात्र कार्यवाही को लेकर मुख्य द्वार पर धरने पर हैं | वहीँ पुलिस प्रशासन ने कैंपस को छावनी में तब्दील किया है | बुधवार को टकराव बढ़ने की आशंका को लेकर जिले में हाई अलर्ट है |

अमुवि में मंगलवार को हुए बवाल में अमुवि और दुसरे पक्ष से कई तहरीर पहुंची हैं | दोनों और से एकदूसरे पर कार्यवाही को लेकर अडिग हैं | सोशल मीडिया पर दोनों ओर से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है |

अमुवि बवाल में पहला मुकदमा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष मुकेश सिंह की ओर से दर्ज कराया गया है, जिसमें नदीम अंसारी, जैद शेरवानी, छात्रसंघ सचिव हुजैफा आमिर, उपाध्यक्ष हमला सूफियान, मो.आमिर, नवेद आलम, छात्रसंघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज, पूर्व अध्यक्ष मशकूर अहमद, आरिफ त्यागी, फरहान जुबैरी, नजमुल साकिब, जकी, रिहान, असद व अन्य अज्ञात एएमयू छात्र आरोपी बनाए गए हैं। तहरीर में आरोप है कि मुकेश सिंह अपने साथी मनोज शर्मा संग किसी काम से कलेक्ट्रेट जा रहे थे। तभी एएमयू सर्किल पर हमलावर एएमयू छात्रों ने उनकी गाड़ी को देखकर हमला बोल दिया। गाड़ी से उन्हें व मनोज को खींचकर पीटा। फायरिंग की। इस फायरिंग में मुकेश बच गए। गोली उनकी गाड़ी में लगी। वहीं मनोज से मोबाइल जंजीर आदि लूटकर बेरहमी से पीटा गया। बाद में देश विरोधी व भाजपा और पीएम विरोधी नारेबाजी करते हुए हमलावर भाग गए। किसी तरह मुकेश वहां से बचकर भागे।

दूसरा मुकदमा मुकदमा टीवी चैनल की रिपोर्ट नलिनी शर्मा की ओर से सुरक्षा अधिकारी अजीज अख्तर व अज्ञात एएमयू छात्रों पर दर्ज कराया है, जिसमें है कि कवरेज करने से रोका गया और विरोध पर पीटा गया। अभद्र व्यवहार किया गया। बाद में उनके कैमरे तोड़कर आग लगा दी गई। इस पक्ष की ओर से तीसरी तहरीर अजय सिंह पर हमले के संबंध में मीडिया प्रभारी डॉ.निशित की ओर से दी गई है, जिसमें कहा गया है कि जब वह एएमयू सर्किल पर पहुंचे तो अजय सिंह को पीटा जा रहा था। उनके साथी छात्रों की गाड़ियां जलाई जा रही थीं। उन्हें देख उन पर भी एएमयू छात्र व उनके साथ बाहरी अराजक तत्व हमलावर हो गए। हम लोगों को डंडों आदि से जमकर पीटा और जानलेवा फायरिंग की गई।

तहरीर के अनुसार यह सब वहां मौजूद प्रॉक्टर मोहसिन खान व रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद के इशारे पर किया गया। इस तहरीर में नदीम अंसारी, सद्दाम हुसैन, हुजैफा आमिर, नबील उस्मानी, फिरोज आलम उर्फ राजा, रिहान व आठ दस अन्य लोग आरोपी बनाए गए हैं। इन पर देश विरोधी व पीएम सीएम विरोधी नारेबाजी का भी आरोप है।

अमुवि की तरफ से भी तहरीर दी गयी है जिसमे एक टीवी चैनल पर छात्रों को भड़काने का आरोप लगाया गया है | एएमयू सुरक्षा अधिकारी जावेद की ओर से बिना अनुमति मीडिया कवरेज करने पहुंचे मीडियाकर्मियों पर छात्रों को भड़काने के संबंध में दी है। वहीं एक तहरीर एएमयू छात्र जैश मोहम्मद की ओर से सर्किल पर अजय आदि द्वारा मारपीट करने व फायरिंग करने के संबंध में दी है। इसी तरह एक तहरीर छात्र संघ सचिव हुजैफा आमिर की ओर से अजय, निशित, सोनवीर, विक्रांत जौहरी आदि के खिलाफ रजिस्ट्रार आफिस पर हमलावर होने, फायरिंग करने आदि के संबंध में दी है। वहीं एक तहरीर प्रॉक्टर कार्यालय की ओर से अजय आदि के खिलाफ रजिस्ट्रार आफिस पर बिना अनुमति धरने के संबंध में दी गई है। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस ने मुकेश सिंह व नलिनी शर्मा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किए जाने की पुष्टि की है। देशद्रोह की धारा भी शािमल की गई है।