चीन को जवाब देने की बजाए हिन्दू-मुस्लिम और काँग्रेस-गाँधी परिवार से लड़ रही मोदी सरकार : अलका लांबा

नई दिल्ली | देशभर में भारत-चीन सीमा पर हिंसक विवाद के बाद केंद्र सरकार निशाने पर है | कांग्रेस ने मोदी सरकार को सवालों से परेशान कर रखा है | अलका लांबा ने एकबार फिर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया है | अलका लांबा ने सरकार पर हिन्दू-मुस्लिम में लड़ाई लड़वाने का आरोप लगाया है | सोशल मीडिया पर अलका लांबा के ट्वीट वायरल हो रहे हैं |

अलका लांबा ने ट्वीट कर लिखा कि – ”दुश्मन देश अपने देश की अर्थव्यवस्था, रोज़गार, विकास के लिए दुनियाँ भर से लड़ने को तैयार है और यहाँ भारत की मोदी सरकार को कभी हिन्दू-मुस्लिम को लड़वाने तो कभी काँग्रेस-गाँधी परिवार से ही लड़ने से फुर्सत नहीं मिल रही. आज चीन को जवाब देने की बजाए मोदी सरकार-BJP RGF से सवाल कर रही है”

एक अन्य ट्वीट में अलका ने लिखा कि – ”15-16 जून को 20 भारतीय जवानों की शहादत का बदला 30 जून आते आते मात्र 59 चीनी ऐप बैन करने की सरकारी घोषणा तक पहुँचा है… आगे आगे देखो होता है क्या ”

आम आदमी पार्टी सरकार पर तंज कस्ते हुए अलका ने लिखा कि – ”लगता है अमित शाह जी ने #AAP को हरी झंडी दिखा दी है… बढ़िया है. लगे हाथों पहल करते हुए केजरीवाल सरकार द्वारा तेल पर लगाया गया 30% वैट भी वापस ले लीजिए, पेट्रोल से अधिक डीज़ल की क़ीमत का कीर्तिमान तो #AAP सरकार के नाम पर ही है”

एक और ट्वीट में अलका लांबा ने कहा कि – ”अध भक्त : “मोदी जी, हमनें 59 चीनी ऐप अपने मोबाइल से हटा दिए हैं,अब हम देशभक्त हुए के नहीं ? क्यों कि हमारे हाथ में जो मोबाइल अब रह गया है वो तो अभी भी चीनी है “? जवाब : कोई बात नहीं, 50% देशभक्ति भी बहुत है”