Aligarh : दुर्घटना में मृतक मासूम छात्रा की मां का मदद के बहाने उड़ाया पर्स, इंसानियत शर्मसार

अलीगढ़ । कलयुग इस दौर को यूहीं नही कहा जाता है, कुछ लोग हरकते ऐसी करते हैं कि इंसानियत को भी शर्म आ जाये । बीते शुक्रवार को सरसौल चौराहे के पास जब मासूम छात्रा की सड़क दुर्घटना में दर्दनाक मौत हो गयी तो उसकी बदहवास मां का पर्स ही लोगों ने गायब कर दिया । खबर के अनुसार थाना बन्नादेवी क्षेत्र के खैर बाईपास पर शुक्रवार को नगला कलार के पास हुए हादसे में बच्ची की मौत से बदहवास हुई शिक्षिका का किसी ने मदद के बहाने पर्स पार कर दिया। पर्स में मोबाइल, एटीएम कार्ड व रुपये रखे थे। इस मामले में पीड़ित परिजन थाने में तहरीर देंगे।

थाना क्वार्सी क्षेत्र के सुरेंद्र नगर गोविंद पार्क निवासी रीना उपाध्याय खैर रोड स्थित गगन पब्लिक स्कूल में शिक्षिका हैं। शुक्रवार को वह अपनी बेटी वंशिका व बेटा माधव के साथ स्कूटी से स्कूल जा रही थीं। खैर बाईपास पर नगला कलार के पास स्कूटी फिसलने से तीनों सड़क पर गिर गए थे। तभी ट्रक की चपेट में आकर वंशिका की मौत हो गई। आंखों के सामने बेटी की मौत से रीना बदहवास हो गई थीं। परिजनों का कहना है कि हादसे के बाद कुछ लोग रीना की मदद के लिए पहुंचे। हादसे के बाद बवाल होने लगा। उसी दौरान किसी ने रीना का पर्स पार कर दिया। उस वक्त रीना ने पर्स की ओर कोई ध्यान नहीं दिया। वह अपने गम में डूबी हुई थीं। बाद में परिजनों ने रीना से मोबाइल फोन के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि मोबाइल पर्स में था। इस पर स्कूटी की डिग्गी आदि में पर्स देखा मगर नहीं मिला। पर्स में मोबाइल के अलावा डेढ़-दो हजार रुपये व एटीएम कार्ड आदि रखे हुए थे। वहीं रीना व अन्य परिजन बेटी की मौत से गमगीन हैं। इसलिए अब वे बाद में तहरीर देंगे।