#Aligarh : अमर उजाला ने ‘प्रथमा’ से किया नारी शक्ति का सम्मान, इन्हें मिला अवार्ड-

अलीगढ | विभिन्न क्षेत्रों में काबिलीयत से अपने नाम की पताका पहराने वाली नौ महिलाओं को ‘अमर उजाला प्रथमा’ अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह अवार्ड धर्मपुर कोर्टयार्ड में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में चिकित्सा, शिक्षा, लोकसेवा, व्यापार, सोशल वर्क, विज्ञान, कला एवं संस्कृति और खेल के क्षेत्र में उपलब्धि हासिल करने वाली महिलाओं को दिया गया। रविवार रात रंगीन व जगमगाती लाइट में अपनी कड़ी मेहनत से लोगों के लिए प्रेरणादायी बन चुकीं डॉ. हमीदा तारिक (चिकित्सा), फिरदौस रहमान (समाजसेवा), आरती मित्तल (शिक्षा), महिमा मिश्रा (लोकसेवा), बदर जहां (कला व संस्कृति), अंजलि भटनागर ( रूप सज्जा), विभूति चौहान (उद्यमिता), अरीबा खालिद (खेल), सौम्या अग्रवाल (विज्ञान) को शॉल ओढ़ाकर, प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। यह सम्मान उन्हें मुख्य अतिथि मेयर मोहम्मद फुरकान, विशिष्ट अतिथि सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ अधिवक्ता गीतांजलि शर्मा व पूर्व विधायक विवेक बंसल ने भेंट किया। शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। सुरभि अग्रवाल ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए।

रैंप पर कैटवॉक, भविष्य की योजनाएं गिनाईं-
धर्मपुर कोर्टयार्ड में ‘स्टाइल दीवा’ नाम से रैंप पर युवतियों ने कैटवॉक किया। इसमें सोनिका सिंह प्रथम, शिवांगी सेंगर द्वितीय, साक्षी वार्ष्णेय तृतीय स्थान पर रहीं। बेस्ट वॉक में शिवांगी सेंगर, बेस्ट कॉस्टयूम में पूजा दिवाकर, बेस्ट टैलेंट में हिमानी ने बाजी मारी। निर्णायक डॉ. पूनम सारस्वत, निक्की अग्रवाल, हनी अरोरा रहीं। संचालन आरजे कशिश, कल्पना, शरद गुप्ता ने किया। प्रतिभागियों को सजाने और मेक ओवर कराने में लेक्मे ब्यूटी एंड स्टूडियो का विशेष सहयोग रहा। काजल धीरज को बुके देकर सम्मानित किया गया। वेस्टर्न आउफिट की ड्रेस से प्रतिभागियों को मुहैया कराने में शबाना का सहयोग किया।

रैली से जगाई जागरूकता की अलख-
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में अमर उजाला की ओर से ‘अमर उजाला प्रथमा’ के तहत ‘वाक ए थॉन’ रैली धूमधाम से निकली। रैली को हरी झंडी दिखाकर उड़ान सोसाइटी के अध्यक्ष ज्ञानेंद्र मिश्रा ने रवाना किया। रैली के जरिये जागरूकता का अलख जगाई गई। रविवार की सुबह निकली रैली हाथरस अड्डे से राजुल नर्सिंग होम पर पहुंचकर संपन्न हो गई। रैली के बाद नर्सिंग होम में सेमिनार का आयोजन किया गया। डॉ. अंजुला भार्गव ने बताया कि ब्रेस्ट कैंसर से ज्यादातर महिलाएं अनजान हैं। डॉ. भार्गव ने कहा कि महिलाएं परिवार और समाज में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं, इसलिए उनकी अच्छी सेहत समाज की प्राथमिक जिम्मेदारी बनती है। उन्होंने सफल जीवन जीने के लिए संयमित जीवन शैली की सलाह दी। महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर की प्राथमिक अवस्था में पहचान व उपचार के संबंध में जानकारी दी गई। इस मौके पर पूजा सोमानी, कृष्णा गुप्ता, इशा गुप्ता, डॉ. अलका गर्ग, नीना जैन, नीता, साधना अग्रवाल, सुनीता, अर्चना कुलश्रेष्ठ, माधुरी अग्रवाल, शीलू गोयल, शुभा कौशिक आदि मौजूद रहे।