महागठबंधन को मतगणना में धांधली की आशंका, अखिलेश यादव ने दिए कार्यकर्ताओं को मतगणना स्थल पर बड़ी संख्या में रहने के निर्देश

लखनऊ । ईवीएम में गड़बड़ी का सवाल उठाती रही समाजवादी पार्टी को आशंका है कि अब वोटों की गिनती में धांधली हो सकती है। इसलिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने नेताओं व कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह मतगणना के दौरान सजग रहें और बड़ी तादाद में मतगणना स्थल पहुंचें। उन्होंने कहा है कि मतगणना एजेंटों को बहुत सतर्कता से काम करना होगा।

अखिलेश ने इस संबंध में सभी जिला अध्यक्षों, शहर अध्यक्षों व अन्य पदाधिकारियों को चिट्ठी भेजी है। दो पेज के इस पत्र में तमाम जरूरी निर्देश तो दिए गए हैं। साथ ही अंत में अपने हाथ से अखिलेश यादव ने लिखा है कि कार्यकर्ता व पदाधिकारी बड़ी संख्या में मतगणना स्थल पहुंचे। कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि वह सवेरे से ही जुट जाएं। अखिलेश ने कहा है कि स्ट्रांग रूम बंद होने के समय मौक़े पर मौजूद पार्टी कार्यकर्ता इसके खुलने के समय भी ज़रूर मौजूद रहें। उन्होंने कहा कि सभी जिला व शहर अध्यक्ष मतगणना अभिकर्ताओं के साथ 22 मई को बैठक कर लें। यह भी कहा है कि जहां रिटर्निंग आफिसर की मेज पर रखे कम्प्यूटर पर प्रत्याशियों को प्राप्त वोटों को दर्ज किया जाएगा। इस पर दर्ज आंकड़ों पर विशेष ध्यान दिया जाए।

गड़बड़ी पर महागठबंधन करेगा विरोध-प्रदर्शनों-
सूत्र बताते हैं कि बड़ी संख्या में पहुंचने के निर्देश के पीछे उद्देश्य यह है कि अगर कहीं गड़बड़ी की बात सामने आती है तो मौके पर कार्यकर्ता वहां धरना-प्रदर्शन कर विरोध दर्ज करा सकें। यही नहीं इस तरह की तैयारी भी है कि कहीं कुछ गड़बड़ लगता है तो चुनाव आयोग से तुरंत शिकायत की जाए। सपा व बसपा वोटों की गिनती में किसी तरह की धांधली रोकने के लिए अपनी ओर से तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए सपा-बसपा नेता आपस में संपर्क में हैं। सपा बसपा ने मतगणना स्थल पर अपने अपने नेताओं की जिम्मेदारी तय कर दी है। सपा नेता बसपा के संपर्क में भी हैं।